दिल्ली। नोटबंदी के एक महीना पूरा हो चुका है , वही जनता परेशान हैं, अर्थव्यवस्था पटरी से उतरी हुई हैं। वही दूसरी तरफ़ नए नोटो के साथ रंग उड़ने की ख़बरें आ रही हैं। पहले 2000 के नोटो के रंग उड़ने की ख़बर आयी थी। अब नया मामला दिल्ली के अशोक विहार का हैं। यहाँ अमरिंदर नाम के एक श्क्श ने अपने बैंक से पैसे निकले जो की 500  के नोट थे। घर आने के बाद जब उन्होंने नोट गिनने चालू किए तो 500 के नए नोटो के रंग उड़ने लगे और यहाँ तक कि नोटो के नम्बर भी निकलने लगे। जब अमरिंदर ने नोटो को अच्छे से जाँचा तो नोट तो सही लग रहे थे।

अब सवाल ये उठता है की नोट असली है कि नक़ली। और ये नोट आए कहा से। अमरिंदर का कहना है की उन्होंने ये पैसे आपने कोटक महिंद्रा बैंक के अकाउंट से निकले थे ।

अब सवाल RBI और सरकार पर उठता है की  ये किसकी ग़लती हैं। क्या ये RBI की ग़लती हैं, जिसकी वजह से प्रिंटिंग ग़लत हो रहीं हैं, इडली वजह से सरकार और जनता को इसका भुगतना करना पड़ रहा हैं। या सरकार के नक़ली नोटो को ख़त्म करने का दावा खोखला दिख रहा हैं। अगर ये RBI की ग़लती से हो रहे है तो ये नए RBI के गवर्नर ऊर्जित पटेल की क़ाबिलियत पर ऊँगली उठाते हैं। और ये पूरा मामला जाँच के बाद हीं साफ़ हो पाएगा।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SOURCENews18
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया