16 फरवरी को होनी है पहली कैबिनेट की मीटिंग जबलपुर शहर में इस मीटिंग को लेकर काफी उत्साह है क्योंकि शहरवासियों को 15 वर्षों से भाजपा सरकार ने कई सपने दिखाए परंतु उनको पूरा नहीं कर पाए आज शहर में कई ऐसे मुद्दे हैं जो जनता के बीच चल रहे हैं और उनका समाधान जनता चाहती है कमलनाथ जी ने कैबिनेट की मीटिंग जबलपुर में रखी है

अब फ्लाईओवर में भी अड़चन न आए

मदन महल से दमोह नाके तक बनने वाला फ्लाईओवर शहर के लिए महत्वकांक्षी योजना है मदन महल रेलवे स्टेशन के पास रेलवे लाइन के ऊपर से फ्लाईओवर का निर्माण होना है ।

नर्मदा एक्सप्रेस वे
अमरकंटक से गुजरात तक पहुंचाने वाला नर्मदा एक्सप्रेस वे को बेहद महत्वपूर्ण जी माना गया है तकरीबन 1500 किलोमीटर लंबे मार्ग की डीपीआर का तैयार नहीं हो पाई है 13000 करोड़ की लागत से तैयार होने वाला एक्सप्रेस वे का नर्मदा किनारे बसे हर छोटे-बड़े शहर को फायदा मिलेगा।

प्रस्तावों पर विचार और भूमि पूजन
• 400 करोड़ की लागत से नर्मदा स्मृति काॅरीडोर मंडला से तिलवारा तक
• 120 करोड़ का ग्वारीघाट से मंगेली तक 15 मीटर चौड़ा केबल स्टैड ब्रिज।
• 30 करोड़ की लागत से मदन महल पहाड़ी का सुसज्जित करने का प्रस्ताव।
• 30 करोड़ की लागत से तेवर स्थित कृषि मंडी का प्रस्ताव।
• 20 हेक्टेयर जमीन में गडेरी में नए औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना करने का प्लान।
• छोटी लाइन फाटक से ग्वारीघाट तक क्लीन ग्रीन कॉरिडोर बनाने की योजना।
• मेगा आईटीआई बनाने की योजना जहां 5000 छात्र प्रशिक्षित हो सके।
• जिला अस्पताल विक्टोरिया को 500 बिस्तर का करने का प्रावधान।
• सरस्वती घाट एवं लामेटाघाट बनने वाले झूला पुल।
• मेडिकल कॉलेज की भूमि पर प्रस्तावित डेंटल कॉलेज।
• टैक्सटाइल पार्क एवं नई औद्योगिक क्षेत्र का विकास।
• बाईपास के नजदीक बनने वाले दिव्यांग छात्र-छात्राओं के लिए हॉस्टल भवन।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया