लखनऊ: शिवपाल और अखिलेश के सांकेतिक शक्ति प्रदर्शन मैं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बढ़त बना ली और समर्थन के आंकड़े लेकर जा पहुचे पिता मुलायम सिंह यादव के पास और उन्हें इस चीज़ का एहसास कराया की शिवपाल यादव की उनके सामने वो हैसियत नहीं है और वो ही मुलायम सिंह के उत्तराधिकारी है और सूत्रों की माने तो उन्होंने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के सामने ये शर्त रख दी है की वो अमर सिंह और शिवपाल यादव को बहार का रास्ता दिखा दे
अमर सिंह का झुकाव जहाँ राजनाथ सिंह की तरफ है वही दूसरी ओर शिवपाल यादव अपनी राजनीतिक मात को जीत में बदलने के लिए कांग्रेस में जाने का मन बना रहे है और इसी के चलते शिवपाल यादव ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर और यूपी प्रभारी गुलाब नबी आज़ाद के संपर्क में है
बड़ा ही दिलचस्प होगा की राजनैतिक मोहरे किस करवट बैठते है



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया