द क्विंट के पत्रकार को दिए एक इंटरव्यू में बाबा रामदेव ने नोटबन्दी पर उठाये कई गंभीर सवालिया निशान ,मिलाया राहुल के सुर में सुर और कहा 3-5 लाख  करोड़  तक हुआ घोटाला। नोटबंदी की तैयारी में भारी अनिमियातता से पहले ही सरकार  नाकाम साबित हो रही है, हालात दिन-प्रति-दिन बद् से बद्तर हुए जा रहे और सरकार इस बेकाबू हालात को नियंत्रित करने के लिए कोई प्रयास करती नज़र नहीं आ रही।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है

आपकी प्रतिक्रिया