पूर्व क्रिकेटर और भाजपा से निष्कासित सांसद कीर्ति आज़ाद ने देश के वित्तमंत्रि अरुण जेटली  पर बड़ा आरोप लगते हुये, कहा कि अरुण जेटली की सम्पत्ति में पिछले दो सालों में 144 करोड़ की बढ़ोतरी हुईं हैं। इसकी जाँच होनी चाहिए।

आज़ाद ने ये भी कहा की DDCA मामले में जाँच होगी तो अरुण जेटली पर आरोप साबित होंगे। अगर आरोप ग़लत हुए तो मैं अपनी मूँछ मुड़ा लूँगा।

आज़ाद ने ये भी कहा की अरुण जेटली आज तक के इतिहास के सबसे अक्षम वित्तमंत्रि हैं। आज़ाद ने नोट बंदी का समर्थन करते हुए,कहा  की वित्तमंत्रि की अक्षमता की वजह से नोटेबंदी सही तरीक़े से लागू नही हो सका। जिसकी वजह से आज पूरा देश परेशान हैं। और इसी वजह से देश में बेरोज़गारी बड़ी है, और ऊध्योगो और देश के विकास पर बुरा असर पड़ा है।

उन्होंने आगे कहा की बँको के ज़रिए बड़े घोटाले हुए है, जिसकी जाँच होनी चाहिए।

 



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SOURCEKohraam.com
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया