चेन्नई। लंबे समय से बीमार चल रहीं तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता अब पहले से बेहतर है, हालांकि उनके दाहिने हाथ में सूजन है। इसी के चलते अन्नाद्रमुक पार्टी की प्रमुख ने चुनावी हलफनामों पर हस्ताक्षर करने की बजाय अंगूठे का निशान लगाया। शुक्रवार रात को सामने आए दस्तावेज से इसका खुलासा हुआ।

phpthumb_generated_thumbnail-3कहा यह भी जा रहा है कि इलाज के दौरान जयललिता का हाथ जल गया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जयललिता ने शुक्रवार को विधानसभा सीट पर होने वाले बाइइलेक्शन के एफिडेविट पर अंगूठा लगाया। 19 नवंबर को तिरुपरंगुन्द्रम सीट पर बाइइलेक्शन होना है। यहां एआईएडीएमके की तरफ से एके बोस चुनाव लड़ रहे हैं। इसके लिए बोसए डॉक्यूमेंट्स पर जयललिता के साइन लेने गए थे, जिस पर उन्होंने बाएं हाथ के अंगूठे का निशान लगाया। पार्टी के तरफ से चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर को जारी लेटर में कहा गया है कि डॉक्यूमेंट्स में 5 जगह जयललिता ने अंगूठा लगाया है।

गौरतलब है कि 68 वर्षीय जयललिता बीते 22 सितंबर से अस्पताल में भर्ती हैं। उन्हें बुखार और शरीर में पानी की कमी की शिकायत के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उनकी स्वास्थ्य जानकारी में डॉक्टरों ने बताया कि उनके फेंफड़ों में संक्रमण है और वह रेस्पिरेटरी सपोर्ट पर हैं।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया