लखनऊ :- उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के इस्तीफे के बाद खाली हुई गोरखपुर लोकसभा सीट पर 11 मार्च को मतदान और 14 मार्च को मतगणना होनी है जिसको लेकर पार्टियों ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है ! पहले पहल करते हुए कांग्रेस पार्टी ने समाजसेविका व 2012 मेयर चुनाव मे दूसरे पायदान पर रही डा• सुरहिता को अपना उम्मीदवार घोषित किया है तो समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर में निषाद पार्टी से जुड़े प्रवीण कुमार निषाद को अपना उम्मीदवार बनाया है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की सीट होने के कारण काफी मंथन के बाद भारतीय जनता पार्टी ने गोरखपुर उपचुनाव मे उपेंद्र शुक्ला को अपना उम्मीदवार घोषित किया है !

गोरखपुर लोकसभा सीट पर 1989 से अबतक गोरखनाथ मंदिर का कब्जा रहा है आदित्यनाथ के पहले इस सीट से गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैधनाथ लोकसभा जा चुके है इसके बाद गोरखनाथ मंदिर के मुख्य महंत आदित्यनाथ पांच बार लोकसभा जा चुके है !

आदित्यनाथ के इस्तीफे बाद खाली हुई गोरखपुर लोकसभा पर बीते तीन दशक बाद पहली बार गोरखनाथ मंदिर के बाहर का व्यक्ति भाजपा के लिए मैदान मे है जबकि गोरखनाथ मंदिर का क्षेत्र मे काफी प्रभाव है ! इस सीट पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की प्रतिष्ठा से भी जोड़कर देखा जा रहा है और राजस्थान उपचुनाव के नतीजो से भी भारतीय जनता पार्टी काफी सर्तक है सूत्रों की माने तो 11 मार्च को होने वाले गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव मे भाजपा को विपक्षी पार्टियों द्वारा कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है एवम् तीन दशक बाद गोरनाथ मंदिर के बाहर का प्रत्याशी होने के कारण भी भारतीय जनता पार्टी की गोरखपुर की सीट आसान नही रह गई है !



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है

आपकी प्रतिक्रिया