गुजरात में विकाश के बड़े बड़े दावे किए जाते रहे है । परंतु इसके उलट अगर गुजरात के ग्रामीण इलाक़ों में भ्रमण करे तो, गुजरात मॉडल के उलट हीं तस्वीर सामने आती हैं।

ऐसा ही एक नज़ारा देखने को मिला कामरेज विधानसभा में , जहाँ इंद्रा आवास के घरों में नल तो है पर पानी नहि आता, सिर्फ़ दिखाने के हैं। शौचालय बने है वो भी सिर्फ़ दिखाने के लिए ।बिजली के खम्बों से तार लटक रहे है, इनसे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है , परंतु कोई सुध लेने वाला नही हैं।

गुजरात में विकास मॉडल के बड़े बड़े दावे किए जाते है, जिसके उलट एक गुजरात ये भी हैं। जिसका ना कोई ज़िक्र हैं, ना कोई फ़िक्र।

 



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया