बहराइच/उत्तरप्रदेश
परिवर्तन रैली को संबोधित करने आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलीकॉप्टर बहराइच के आसमान पर तो आया लेकिन जमीन पर नहीं उतरा। सरकार का कहना है कि घने कोहरे के कारण उनका हैलीकॉप्टर लैंड नहीं कर पाया तो विरोधियों का कहना है कि तमाम कोशिशों के बावजूद पर्याप्त भीड़ नहीं थी। आसमान से ही खली कुर्सियां दिख रहीं थीं, इसलिए मोदी लौट गए। इसके इतर एक खबर यह भी है कि बहराइच में मोदी पर हमले की खुफिया सूचना थी। इस सभा में हवाई निगरानी करने के इंतजाम भी किए गए थे। एक चर्चा यह भी है कि बहराइच की सभा में मोदी के छापामार विरोध प्रदर्शन की तैयारी थी। खुफिया ऐजेंसियों ने एन मौके पर यह खबर दी थी। 

गूगल पर उपलब्ध बहराइच के मौसम की जानकारी के अनुसार ना तो वहां कोहरा था और ना ही बादल, बल्कि धूप खिली हुई थी और दोपहर में तापमान 24 डिग्री था। उनका उड़नखटोला बहराइच के आसमान पर करीब 30 मिनट तक डोलता रहा। 

वजह जो भी हो लेकिन मोदी बहराइच नहीं आ सके और समर्थकों के थाईलैंड से मंगाए गए फूल धरे के धरे रह गए। पीएम मोदी ने फोन पर ही बहराइच रैली को संबोधित किया। उन्होने अपने संबोधन में कहा कि आपने देखा होगा कि सरकार हर उस व्‍यक्ति के पीछे पड़ी हुई है जिसने कालेधन को छ‍िपा रखा है। सरकार गरीबों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम काले धन के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। सपा और बसपा मिलकर इसका विरोध कर रहे हैं। यह लोग संसद चलने नहीं दे रहे हैं। संसद की बेल में आ जाना, स्पीकर के सामने हंगामा करना इनकी मंशा जाहिर करता है। सरकार लगातार बेइमानों के पीछे पड़ी है। बड़े-बड़े लोग पकड़े जा रहे हैं। यह सरकार गरीबों की है। गरीबों के लिए है। प्रधानमंत्री ने कहा यदि प्रदेश को आगे ले जाना है तो गुंडागर्दी को खत्म करना होगा। आप लोगों ने मोबाइल से मेरी बात सुनी। हमें आशीर्वाद दिया। इसके लिए आभार…।

बता दें कि प्रधानमंत्री बहराइच में विश्वरिया के महाराजा सुहेलदेव स्थल ग्राम बिसवरिया में आयोजित परिवर्तन रैली को संबोधित करने आ रहे थे। पीएम दिल्‍ली से लखनऊ विशेष विमान से आए थे। इसके बाद सेना के तीन हेलीकॉप्टर से बहराइच रवाना हो गए लेकिन हेलीकाप्टर लैंड नहीं हुआ। वो वापस लौट गए। 



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया