मध्य प्रदेश की कमल नाथ सरकार की पहली कैबिनेट जबलपुर में हुई. सरकार ने महाकौशल पर फोकस कर कई अहम फैसले लिए. लेकिन पहली बार राजधानी से बाहर हुई कैबिनेट की बैठक को लेकर प्रदेश सियासी पारा चढ़ गया है. विपक्ष से लेकर कांग्रेस ने भी महाकौशल के बाद दूसरे इलाकों में कैबिनेट की मांग कर डाली है

दरअसल, कांग्रेस सासंद विवेक तंखा की मांग पर कमलनाथ कैबिनेट की बैठक जबलपुर में हुई. बैठक में कई अहम प्रस्तावों पर मुहर लगी. कांग्रेस के सत्ता पर काबिज होने के बाद ये पहला मौका था जब कमल नाथ सरकार जबलपुर पहुंची और बैठक में पूरे महाकौशल इलाकों को सौगातों की झड़ी लगाई.

 



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है
SHARE

आपकी प्रतिक्रिया