रायपुर। छत्तीसगढ़ के मंत्री राजेश मूढ़त की कथित सेक्स सीडी के जिस मामले ने देशभर में हड़कंप मचा दिया था उस मामले का सबसे अहम किरदार अब सामने आ गया है।

बीजेपी आईटी सेल प्रभारी प्रकाश बजाज की शिकायत पर ही आनन फानन में पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी हई थी. प्रकाश बजाज ही वो शख्स हैं, जिनके पास ब्लैक मेलिंग का फ़ोन आया था, और फ़ोन करने वाले ने कहा था कि तुम्हारे आका की सेक्स सीडी हमारे पास है।इसके बाद बजाज ने पंडरी थाने में इसकी शिकायत दर्ज की थी।

बजाज की इस शिकायत पर पत्रकार विनोद वर्मा की तो गिरफ्तारी हो गयी, लेकिन इसके बाद से ही प्रकाश बजाज गायब थे. घटना के पूरे 9 दिनों बाद प्रकाश बजाज अब सामने आए हैं। प्रकाश बजाज का कहना है कि वो गायब नही हुए थे बल्कि अपने घर पर ही थे और अपने रोजमर्रा के कामों में लगे हुए थे।

बजाज पत्रकारों के सवालों का जवाब बड़े ही सधे हुए शब्दों में देते दिखे. ब्लैक मेलिंग के लिए आए कॉल में किस आका की बात हो रही थी इस सवाल पर बजाज ने कहा कि पूरी पार्टी का हाथ उनके सर पर है। हालांकि बजाज ने इसके अलावा किसी भी सवाल पर सीबीआई जांच और मामले के कोर्ट में होने का हवाला देते हुए कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है

आपकी प्रतिक्रिया