लगातार नोट बंदी को लेकर जनता जिस तरह प्रभावित हो रही है। उसी के साथ नये नये शब्द भी पीड़ा के साथ जनम ले रहे है । आने वाले चुनावों में आर्थिक नसबंदी वाले शब्द बीजेपी के लिये काफ़ी घातक साबित हो सकता है । तमाम राजनीतिक दल आर्थिक नसबंदी शब्द को अपने अपने विचारों के साथ आर्थिक नसबंदी को विभिन्न प्रकार से जोड़ कर पेश कर सकते हैं।



डिस्क्लेमर :इस आलेख में व्यक्त राय लेखक की निजी राय है। लेख में प्रदर्शित तथ्य और विचार से UPTRIBUNE.com सहमती नहीं रखता और न ही जिम्मेदार है

आपकी प्रतिक्रिया